30 Sep 2010

कल से आपलोगों का प्रतिदिन का राशिफल यहां तैयार मिलेगा !!

 पृथ्‍वी को केन्‍द्र में मानकर पूरे आसमान के 360 डिग्री को जब 12 भागों में विभक्त किया जाता है , तो उससे 30-30 डिग्री की एक राशी निकलती है। इन्हीं राशियों को मेष , वृष , मिथुन ............... मीन कहा जाता है। किसी भी जन्मकुंडली में तीन राशियों को महत्वपूर्ण माना जाता है। पहली वह राशी , जिसमें जातक का सूर्य स्थित हो, वह सूर्य-राशी के रुप में, जिसमें जातक का चंद्र स्थित हो, वह चंद्र-राशी के रुप में तथा जिस राशी का उदय जातक के जन्म के समय पूर्वी क्षितीज मे हो रहा हो , वह लग्न-राशी के रुप में महत्वपूर्ण मानी जाती है। एक महीने तक जन्‍म लेनेवाले सभी व्‍यक्ति एक सूर्य राशि के अंतर्गत आते हैं , जबकि ढाई दिन तक जन्‍म लेनेवाले एक चंद्रराशि के अंतर्गत। इन्‍हीं जन्‍म राशियों को लेकर पत्र पत्रिकाओं में भविष्‍यवाणियां की जाती है।

प्राचीन काल से ही अबतक ज्‍योतिष पर भरोसा न रखनेवालों की नजर में राशिफल तो अंधविश्‍वास है ही , ज्‍योतिष पर भरोसा रखनेवाले व्‍यक्ति भी राशिफल पर विश्‍वास नहीं कर पाते। कारण भी सही है , जहां एक ओर ज्‍योतिष की गणना को बिल्‍कुल सूक्ष्‍म माना जाता है , वहीं दूसरी ओर राशिफल जैसे स्‍थूल विषय पर किसी का विश्‍वास स्‍वाभाविक नहीं है। बावजूद इसके जनसंख्‍या का एक बडा भाग अपनी राशिफल जानने के लिए बेचैन होता है। संपूर्ण जनसंख्‍या को 12 भाग में बांटकर उसके आधार पर भविष्‍यवाणी किया जाना भले ही लोगों को नहीं जंचे , पर वास्‍तव में सही गणना की जाए तो राशिफल निरर्थक नहीं होता।

कुछ पत्रिकाओं में सूर्य-राशी के रुप में तथा कुछ में चंद्र-राशी के रुप में भविष्यफल का उल्लेख रहता है , उनकी वैज्ञानिकता पर थोडा संदेह किया जा सकता है , भले ही उसके जाल में लाखों लोग फंसे होते हों। इसकी जगह लग्न-राशी फल निकालने से पाठकों को अत्यधिक लाभ पहुंच सकता है , क्योंकि जन्मसमय में लगभग दो घंटे का भी अंतर हो तो दो व्यक्ति के लग्न में परिवर्तन हो जाता है, जबकि चंद्रराशी के अंतर्गत ढाई दिन के अंदर तथा सूर्य राशी के अंतर्गत एक महीनें के अंदर जन्मलेनेवाले सभी व्यक्ति एक ही राशी में आ जाते हैं। 

आज तो किसी जातक का लग्‍न राशि निकालने के लिए बहुत सुविधा हो गयी है। इंटरनेट में भी आप अपने लग्‍न और अपनी राशि की जानकारी के लिए कई लिंकों पर जा सकते हैं , यहां और यहां । जन्‍म के शहर के लांगिच्‍यूड और लैटिच्‍यूड की जानकारी के लिए आप इस लिंक पर भी जा सकते हैं। तो आज ही लग्‍न और राशि निकालकर तैयार रहें , कल से प्रतिदिन की राष्‍ट्रीय , अंतर्राष्‍ट्रीय घटनाओं , मौसम और शेयर बाजार की चर्चा के साथ आपलोगों का प्रतिदिन का राशिफल यहां तैयार मिलेगा।

8 comments:

  1. संगीता जी , आपके ब्लॉग तक मैं आई और आपकी अनुसरण कर्ता भी बन गयी हूँ आपके ब्लॉग पर ज्योतिष से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारियाँ मिली . बहुत ही अच्छे विषय को आपने चुना है आपके ज्ञान से सभी लोग लाभ प्राप्त करे शुभकामना -ममता

    ReplyDelete
  2. blog bahut hi rochak vishay par hai.follow karne se kaise ruk sakti hun.charcha manch par comment karne ke liye shukriya.

    ReplyDelete
  3. kaphi rochak laga mujhe padhkar. mai aapki prasanshak "hai baaton me dam" se thi aur tabhi se aapke baare me janne ki abhilasha thi. jab mai apne blog me aapki tippni dekhi to bahut kushi hui aur aap ke baare me janane ka avasar mila. guru tulya aashish de mujhe.

    ReplyDelete
  4. HI,YOU ARE DOING GOOD JOB FOR FOLLOWERS,I AM ASTROLOGER I LIKE YOUR BLOG.

    ReplyDelete
  5. mera janm 28/10/1950 ke ratko 11-45 ka ratlam m.p. kahe mera kark lagna he to mera dhandha kesa rahega/?

    ReplyDelete
  6. bahut acchi or mahatvapurna jankari mili bahut bahut dhanyavad

    ReplyDelete
  7. ज्‍योतिष पर भरोसा रखनेवाले व्‍यक्ति भी राशिफल पर विश्‍वास नहीं कर पाते

    सहमत

    ReplyDelete

टिप्‍पणी के रूप में आपके विचारों और सुझावों का स्‍वागत है ....