2 Apr 2011

कैसा रहेगा आपके लिए 2 और 3 अप्रैल का दिन ??

2 और 3 अप्रैल को मेष लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण भाग्‍य , धर्म या खर्च से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍म विश्‍वास या जीवनशैली , भाई , बहन या अन्‍य बंधु बांधव या किसी प्रकार के झंझट आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को वृष लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण हर प्रकार के लाभ के मामले , रूटीन और जीवनशैली से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। माता पक्ष , किसी प्रकार की छोटी बडी संपत्ति , घर गृहस्‍थी , खर्च या बाहरी संदर्भों की , धन , परिवार , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई के मामले आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को मिथुन लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण घर गृहस्‍थी , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष , कैरियर से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। भाई , बहन या अन्‍य बंधुओं , लाभ , प्रभाव , स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍मविश्‍वास , माता पक्ष , हर प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को कर्क लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण धर्म , भाग्‍य ,प्रभाव से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। धन , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई या कैरियर , पिता या सामाजिक पक्ष , भाई , बहन या अन्‍य बंधु , खर्च या बाहरी संदर्भों आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को सिंह लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , रूटीन या जीवनशैली से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। स्‍वास्‍थ्‍य या आत्‍म विश्‍वास, माता पक्ष , किसी प्रकार  की छोटी या बडी अचल संपत्ति , भाग्‍य , धन या लाभ आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को कन्‍या लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण माता पक्ष  , छोटी या बडी संपत्ति , घर गृहस्‍थी से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। खर्च या बाहरी संदर्भ , भाई , बहन , अन्‍य बंधु , रूटीन और , स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍मविश्‍वास , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियर आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को तुला लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण भाई , बहन या अन्‍य बंधु , खर्च और बाहरी संदर्भ से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। लाभ , घर गृहस्‍थी , धन कोष , भाई बहन या अन्‍य बंधु , खर्च और बाह्य संदर्भ आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को वृश्चिक लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण धन , कोष , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। पिता पक्ष , सामाजिक  पक्ष या कैरियर , स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍म विश्‍वास या प्रभाव , लाभ या जीवनशैली आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को धनु लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण स्‍वास्‍थ्‍य , माता पक्ष , किसी प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। भाग्‍य या धर्म , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , खर्च या बाहरी संदर्भ  कैरियर , पिता या सामाजिक पक्ष , घर गृहस्‍थी  , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियर आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को मकर लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण भाई , बहन या अन्‍य बंधु खर्च और बाहरी संदर्भ से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। रूटीन या जीवनशैली , माता पक्ष , छोटी या बडी संपत्ति के मामले , लाभ , भाग्‍य , धर्म या प्रभाव आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को कुंभ लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण  से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। घर गृहस्‍थी , भाई बहन , या अन्‍य बंधु , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियर , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , रूटीन या जीवनशैली आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।


2 और 3 अप्रैल को मीन लग्‍नवालों का ध्‍यान संकेन्‍द्रण स्‍वास्‍थ्‍य , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष , कैरियर प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति से संबंधित मामलों पर बना रहेगा। प्रभाव , भाग्‍य , धर्म , धन , माता पक्ष , छोटी या बडी संपत्ति , घर गृहस्‍थी आदि में से भी कुछ कार्य उपस्थित होकर अधिकांश लोगों की व्‍यस्‍तता बढाएंगे , जबकि कुछ लोगों के लिए यह आरामदायक और कुछ के लिए कष्‍टप्रद समय हो सकता है।



5 comments:

  1. खो जाने को जी चाहता है
    Par yakken nahin hota bhavisyafal par........

    Vivek Jain http://vivj2000.blogspot.com

    ReplyDelete
  2. हर वो भारतवासी जो भी भ्रष्टाचार से दुखी है, वो देश की आन-बान-शान के लिए समाजसेवी श्री अन्ना हजारे की मांग "जन लोकपाल बिल" का समर्थन करने हेतु 022-61550789 पर स्वंय भी मिस्ड कॉल करें और अपने दोस्तों को भी करने के लिए कहे. यह श्री हजारे की लड़ाई नहीं है बल्कि हर उस नागरिक की लड़ाई है जिसने भारत माता की धरती पर जन्म लिया है.पत्रकार-रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा"

    ReplyDelete
  3. भविष्‍य जानने की इच्‍छा इंसान को आदिकाल से रही है और शायद अनंत काल तक और रहेगी। मुझे भी है। ज्‍योतिष के बारे में मेरी जानकारियां शून्‍य से भी कम है। मैं अपनी जन्‍मपत्रिका आपको दिखाकर अपने भविष्‍य के विषय में गंभीर निर्णय लेना चाहता हूँ। आशा है आप निराश नहीं करेंगी । एक बात और... मैं नहीं जानता कि ज्‍योतिष विद्या आपके लिए मन-रंजन की विधि है, जिंदगी है, या फिर पेशा है इसलिए बोलने में संकोच हो रहा है कि जो भी कोई फीस इत्‍यादि हो, कृपया अवगत कराने का कष्‍ट अवश्‍य करें। मेल आई डी - deepakdarhiwala@gmail.com

    http://darhiwala.co.cc

    ReplyDelete
  4. भ्रष्टाचारियों के मुंह पर तमाचा, जन लोकपाल बिल पास हुआ हमारा.
    बजा दिया क्रांति बिगुल, दे दी अपनी आहुति अब देश और श्री अन्ना हजारे की जीत पर योगदान करें आज बगैर ध्रूमपान और शराब का सेवन करें ही हर घर में खुशियाँ मनाये, अपने-अपने घर में तेल,घी का दीपक जलाकर या एक मोमबती जलाकर जीत का जश्न मनाये. जो भी व्यक्ति समर्थ हो वो कम से कम 11 व्यक्तिओं को भोजन करवाएं या कुछ व्यक्ति एकत्रित होकर देश की जीत में योगदान करने के उद्देश्य से प्रसाद रूपी अन्न का वितरण करें.

    महत्वपूर्ण सूचना:-अब भी समाजसेवी श्री अन्ना हजारे का समर्थन करने हेतु 022-61550789 पर स्वंय भी मिस्ड कॉल करें और अपने दोस्तों को भी करने के लिए कहे. पत्रकार-रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा" सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना हैं ज़ोर कितना बाजू-ऐ-कातिल में है.

    ReplyDelete
  5. देश और समाजहित में देशवासियों/पाठकों/ब्लागरों के नाम संदेश:-
    मुझे समझ नहीं आता आखिर क्यों यहाँ ब्लॉग पर एक दूसरे के धर्म को नीचा दिखाना चाहते हैं? पता नहीं कहाँ से इतना वक्त निकाल लेते हैं ऐसे व्यक्ति. एक भी इंसान यह कहीं पर भी या किसी भी धर्म में यह लिखा हुआ दिखा दें कि-हमें आपस में बैर करना चाहिए. फिर क्यों यह धर्मों की लड़ाई में वक्त ख़राब करते हैं. हम में और स्वार्थी राजनीतिकों में क्या फर्क रह जायेगा. धर्मों की लड़ाई लड़ने वालों से सिर्फ एक बात पूछना चाहता हूँ. क्या उन्होंने जितना वक्त यहाँ लड़ाई में खर्च किया है उसका आधा वक्त किसी की निस्वार्थ भावना से मदद करने में खर्च किया है. जैसे-किसी का शिकायती पत्र लिखना, पहचान पत्र का फॉर्म भरना, अंग्रेजी के पत्र का अनुवाद करना आदि . अगर आप में कोई यह कहता है कि-हमारे पास कभी कोई आया ही नहीं. तब आपने आज तक कुछ किया नहीं होगा. इसलिए कोई आता ही नहीं. मेरे पास तो लोगों की लाईन लगी रहती हैं. अगर कोई निस्वार्थ सेवा करना चाहता हैं. तब आप अपना नाम, पता और फ़ोन नं. मुझे ईमेल कर दें और सेवा करने में कौन-सा समय और कितना समय दे सकते हैं लिखकर भेज दें. मैं आपके पास ही के क्षेत्र के लोग मदद प्राप्त करने के लिए भेज देता हूँ. दोस्तों, यह भारत देश हमारा है और साबित कर दो कि-हमने भारत देश की ऐसी धरती पर जन्म लिया है. जहाँ "इंसानियत" से बढ़कर कोई "धर्म" नहीं है और देश की सेवा से बढ़कर कोई बड़ा धर्म नहीं हैं. क्या हम ब्लोगिंग करने के बहाने द्वेष भावना को नहीं बढ़ा रहे हैं? क्यों नहीं आप सभी व्यक्ति अपने किसी ब्लॉगर मित्र की ओर मदद का हाथ बढ़ाते हैं और किसी को आपकी कोई जरूरत (किसी मोड़ पर) तो नहीं है? कहाँ गुम या खोती जा रही हैं हमारी नैतिकता?

    मेरे बारे में एक वेबसाइट को अपनी जन्मतिथि, समय और स्थान भेजने के बाद यह कहना है कि- आप अपने पिछले जन्म में एक थिएटर कलाकार थे. आप कला के लिए जुनून अपने विचारों में स्वतंत्र है और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता में विश्वास करते हैं. यह पता नहीं कितना सच है, मगर अंजाने में हुई किसी प्रकार की गलती के लिए क्षमाप्रार्थी हूँ. अब देखते हैं मुझे मेरी गलती का कितने व्यक्ति अहसास करते हैं और मुझे "क्षमादान" देते हैं.
    आपका अपना नाचीज़ दोस्त रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा"

    ReplyDelete

टिप्‍पणी के रूप में आपके विचारों और सुझावों का स्‍वागत है ....