20 May 2011

कैसा रहेगा आपके लिए 20 और 21 मई का दिन ??


20 और 21 मई को मेष लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता भाग्‍य , धर्म या खर्च जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। माता पक्ष , किसी भी प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर भाई , बहन या अन्‍य बंधु बांधव या किसी प्रकार के झंझट , स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍म विश्‍वास या जीवनशैलीसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को वृष लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता हर प्रकार के लाभ के मामले , रूटीन और जीवनशैली जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। भाई, बहन और अन्‍य से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। माता पक्ष , किसी प्रकार की छोटी बडी संपत्ति जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर धन , परिवार , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई के मामले , घर गृहस्‍थी , खर्च या बाहरी संदर्भों कीसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को मिथुन लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता घर गृहस्‍थी , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष , कैरियर जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। धन से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। भाई , बहन या अन्‍य बंधुओं जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍मविश्‍वास माता पक्ष , हर प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति , लाभ , प्रभ  वसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को कर्क लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता धर्म , भाग्‍य ,प्रभाव जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। स्‍वास्‍थ्‍य या आत्‍म विश्‍वास से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। धन जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर भाई , बहन या अन्‍य बंधु , खर्च या बाहरी संदर्भों , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई या कैरियर , पिता या सामाजिक पक्षसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को सिंह लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , रूटीन या जीवनशैली जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। खर्च या बाहरी संदर्भों से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य या आत्‍म विश्‍वास जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर धन या लाभ , माता पक्ष , किसी प्रकार की छोटी या बडी अचल संपत्ति या भाग्‍यसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को कन्‍या लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता माता पक्ष, छोटी या बडी संपत्ति , घर गृहस्‍थी जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। लाभ से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। खर्च या बाहरी संदर्भ जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍मविश्‍वास , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियर , भाई , बहन , अन्‍य बंधु , रूटीन औरसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को तुला लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता भाई , बहन या अन्‍य बंधु , खर्च और बाहरी संदर्भ जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियर से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। लाभ जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर भाई बहन या अन्‍य बंधु , खर्च और बाह्य संदर्भ , घर गृहस्‍थी , धन कोष जैसे  संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को वृश्चिक लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता धन , कोष , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। भाग्‍य , धर्म से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियर जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर लाभ या जीवनशैली , स्‍वास्‍थ्‍य , आत्‍म विश्‍वास या प्रभावसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को धनु लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता स्‍वास्‍थ्‍य , माता पक्ष , किसी प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। रूटीन या जीवनशैली से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। भाग्‍य या धर्म जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर घर गृहस्‍थी , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियर , अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , खर्च या बाहरी संदर्भ  कैरियर , पिता या सामाजिक पक्षसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को मकर लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता भाई , बहन या अन्‍य बंधु खर्च और बाहरी संदर्भ  जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। घर गृहस्‍थी से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। रूटीन या जीवनशैली जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर भाग्‍य , धर्म या प्रभाव , माता पक्ष , छोटी या बडी संपत्ति के मामले और लाभसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को कुंभ लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता  धन और लाभ जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। प्रभाव से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। घर गृहस्‍थी जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , रूटीन या जीवनशैली , भाई बहन , या अन्‍य बंधु , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष या कैरियरसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।


20 और 21 मई को मीन लग्‍नवालों की व्‍यस्‍तता स्‍वास्‍थ्‍य , पिता पक्ष , सामाजिक पक्ष , कैरियर प्रकार की छोटी या बडी संपत्ति जैसे संदर्भों में बनी रहेगी। अपनी या संतान पक्ष की पढाई लिखाई , या अन्‍य माहौल से संबंधित मुद्दे सुखद बने रहेंगे। प्रभाव जैसे मामले सुखद बने रहेंगे। पर माता पक्ष , छोटी या बडी संपत्ति , घर गृहस्‍थी , भाग्‍य , धर्म , धनसे संबंधित संदर्भों के सुख में कमी होगी।

3 comments:

  1. आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (21.05.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
    चर्चाकार:Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

    ReplyDelete
  2. इस गहनता का लाभ मैं भी लेना चाहती हूँ, कहाँ मिलूं

    ReplyDelete
  3. जी, धन्यवाद!

    ReplyDelete

टिप्‍पणी के रूप में आपके विचारों और सुझावों का स्‍वागत है ....