31 Dec 2011

कैसी रहेगी आपके लिए नए वर्ष की शुरूआत ??

मेष लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  भाग्य , भगवान , धर्म . ये सब चिंतन के विषय बने रहेंगे।  कोई बडा खर्च उपस्थित होगा, किसी धार्मिक कार्यक्रम में उपस्थिति तथा बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान के साथ आपको तालमेल बनाने की आवश्यकता पड सकती है।  किसी कार्यक्रम में माता पक्ष का भी महत्व दिख सकता है, वाहन या किसी प्रकार की संपत्ति को प्राप्त करने के लिए मेहनत जारी रहेगी।  स्वास्थ्य अच्छा रहेगा , आत्मविश्वास भरपूर होगा।  रूटीन मनमौजी ढंग का होगा , किसी कार्यक्रम को अंजाम देने में समय की कमी नहीं होगी।  भाई.बहन, बंधु बांधवों से विचार के तालमेल का अभाव बनेगा, सहकर्मियों से भी संबंध में गडबडी आएगी।  झंझटों को सुलझाने में प्रभाव की कमजोर स्थिति के कारण दिक्कत आएगी।

वृष लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को रूटीन काफी व्यवस्थित होगा, जिससे समय पर सारे कार्यों को अंजाम दिया जा सकेगा।  काफी महत्वपूर्ण लाभ की संभावना है , इसे प्राप्त करने के लिए प्रयास बनेगा।   भाई , बहन , बंधु बांधवों का महत्व बढेगा , पर उनके साथ तालमेल बैठाने की आवश्यकता पड सकती है।  घर, गृहस्थी का वातावरण सुखद बनेगा, किसी कार्यक्रम में ससुराल पक्ष के लोगों से सुखद जुडाव बन सकता है। प्रेम संबंधों में मजबूती आएगी।  मनोनुकूल खर्च का वातावरण तैयार होगा,  किसी बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान से लाभ हो सकता है।  धन की स्थिति कमजोर दिखाई देगी, इसे मजबूत बनाने का हर प्रयास बेकार होगा।  वातावरण की कमजोरी के कारण पढाई लिखाई या किसी प्रकार का ज्ञान प्राप्त करना कठिन रहेगा।  संतान से संबंधित माहौल भी कमजोर बना रहेगा।

मिथुन लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  ससुराल पक्ष का महत्व बढेगा, किसी कार्यक्रम में ससुराल पक्ष के साथ तालमेल बनाने की आवश्यकता पड सकती है।  किसी सामाजिक कार्यक्रम में पिता पक्ष का महत्व दिखाई देगा, कर्मक्षेत्र में भी आपको बडी जबाबदेही मिल सकती है।  धन की स्थिति मजबूत होगी , इसे मजबूत बनाने के कार्यक्रम भी बनेंगे। संपन्न लोगों से विचार विमर्श होगा।  झंझट उपस्थित हो सकते हैं , पर प्रभाव की मजबूत स्थिति से उन्हें दूर किया जा सकेगा।  अनायास लाभ प्राप्ति की संभावना बन सकती है।  स्वास्थ्य काफी गडबड रहेगा, आत्मविश्वास की कमी बनेगी, व्यक्तित्व कमजोर दिखाई देगा।  माता पक्ष के किसी कार्यक्रम में बाधा उपस्थित होगी, वाहन या किसी प्रकार की संपत्ति कश्ट का कारण बनेगी।

कर्क लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  प्रभावशाली लोगों से संबंध की मजबूती बनेगी। कुछ झंझटों को सुलझाने में अपने प्रभाव का पूरा उपयोग करना होगा।  भाग्य , भगवान , धर्म . ये सब चिंतन के विषय बने रहेंगे।  स्वास्थ्य या व्यक्तिगत गुणों को मजबूती देने के कार्यक्रम बनेंगे, स्मार्ट लोगों का साथ मिलेगा।  पढाई लिखाई का वातावरण सुखद होगा , संतान के मामले भी मजबूत महसूस होंगे।  सामाजिक कार्यक्रम या अन्य स्थान पर पिता का सुखद अनुभव प्राप्त होगा, कर्मक्षेत्र का माहौल भी मनोनुकूल होगा।  भाई.बहन, बंधु बांधवों से विचार के तालमेल का अभाव बनेगा, सहकर्मियों से भी संबंध में गडबडी आएगी।  बेवजह के उपस्थित खर्चों से परेशानी होगी, बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान से तकलीफ होगा।

सिंह लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी बुद्धि ज्ञान के मामलों के लिए महत्वपूर्ण होंगे , संतान पक्ष के मामलों में महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा सकते हैं। रूटीन काफी व्यवस्थित होगा , जिससे समय पर सारे कार्यों को अंजाम दिया जा सकेगा।  कोई बडा खर्च उपस्थित होगा, किसी कार्यक्रम में बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान के साथ आपको तालमेल बनाने की आवश्यकता पड सकती है।  किसी कार्यक्रम में माता पक्ष को लेकर सुखद अहसास बनेगा, वाहन या किसी प्रकार की संपत्ति का भी सुख प्राप्त होगा।  किसी परिणाम में संयोग की बडी भूमिका रहेगी, धार्मिक कार्यक्रमों में भी सुखदायक उपस्थिति बनेगी।  धन की स्थिति कमजोर दिखाई देगी, इसे मजबूत बनाने का हर प्रयास बेकार होगा।  लाभ के कमजोर रहने से तनाव बनेगा।

कन्या लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  किसी कार्यक्रम में माता पक्ष का भी महत्व दिख सकता है, वाहन या किसी प्रकार की संपत्ति को प्राप्त करने के लिए मेहनत जारी रहेगी।  ससुराल पक्ष का महत्व बढेगा , किसी कार्यक्रम में ससुराल पक्ष के साथ तालमेल बनाने की आवश्यकता पड सकती है।  काफी महत्वपूर्ण लाभ की संभावना है, इसे प्राप्त करने के लिए प्रयास बनेगा।  किसी कार्यक्रम में भाई.बहन , बंधु बांधवों के मामलों में सुखद अहसास बनेगा। सहकर्मियों से सहयोग मिलेगा।  रूटीन मनमौजी ढंग का होगा , किसी कार्यक्रम को अंजाम देने में समय की कमी नहीं होगी।  स्वास्थ्य काफी गडबड रहेगा, आत्मविश्वास की कमी बनेगी, व्यक्तित्व कमजोर दिखाई देगा।  पिता पक्ष काफी कमजोर बना रहेगा , कर्मक्षेत्र में भी परेशानी रहेगी।

तुला लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को   भाई , बहन , बंधु बांधवों का महत्व बढेगा , पर उनके साथ तालमेल बैठाने की आवश्यकता पड सकती है।  प्रभावशाली लोगों से संबंध की मजबूती बनेगी। कुछ झंझटों को सुलझाने में अपने प्रभाव का पूरा उपयोग करना होगा।  किसी सामाजिक कार्यक्रम में पिता पक्ष का महत्व दिखाई देगा, कर्मक्षेत्र में भी आपको बडी जबाबदेही मिल सकती है।  धन कोष की स्थिति अच्छी रहेगी , साख बना रहेगा।  घर, गृहस्थी का वातावरण सुखद बनेगा, किसी कार्यक्रम में ससुराल पक्ष के लोगों से सुखद जुडाव बन सकता है। प्रेम संबंधों में मजबूती आएगी।  संयोग के न बन पाने से कोई असफलता दिखाई पड सकती है। किसी धार्मिक क्रियाकलापों के बाद भी निराशा ही बनेगी।  बेवजह के उपस्थित खर्चों से परेशानी होगी, बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान से तकलीफ होगा।

वृश्चिक लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  धन की स्थिति मजबूत होगी , इसे मजबूत बनाने के कार्यक्रम भी बनेंगे। संपन्न लोगों से विचार विमर्श होगा।  बुद्धि ज्ञान के मामलों के लिए ये दिन महत्वपूर्ण होंगे , संतान पक्ष के मामलों में महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा सकते हैं।  भाग्य , भगवान , धर्म . ये सब चिंतन के विषय बने रहेंगे।  स्वास्थ्य अच्छा रहेगा , आत्मविश्वास भरपूर होगा।  झंझट उपस्थित हो सकते हैं , पर प्रभाव की मजबूत स्थिति से उन्हें दूर किया जा सकेगा। रूटीन काफी अस्त व्यस्त रहेगा और किसी घटना का प्रभाव जीवनशैली पर बुरे ढंग से पडेगा।  लाभ के कमजोर रहने से तनाव बनेगा।

धनु लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  स्वास्थ्य या व्यक्तिगत गुणों को मजबूती देने के कार्यक्रम बनेंगे , स्मार्ट लोगों का साथ मिलेगा।  किसी कार्यक्रम में माता पक्ष का भी महत्व दिख सकता है, वाहन या किसी प्रकार की संपत्ति को प्राप्त करने के लिए मेहनत जारी रहेगी। रूटीन काफी व्यवस्थित होगा, जिससे समय पर सारे कार्यों को अंजाम दिया जा सकेगा।  मनोनुकूल खर्च का वातावरण तैयार होगा, किसी बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान से लाभ हो सकता है।  पढाई लिखाई का वातावरण सुखद होगा , संतान के मामले भी मजबूत महसूस होंगे। घर गृहस्थी का वातावरण अच्छा नहीं दिखाई देगा, ससुराल पक्ष का तनाव उपस्थित हो सकता है। प्रेम संबंध में भी दूरी बनेगी।  पिता पक्ष काफी कमजोर बना रहेगा , कर्मक्षेत्र में भी परेशानी रहेगी।

मकर लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को भाई , बहन , बंधु बांधवों का महत्व बढेगा , पर किसी कार्यक्रम में उनके साथ तालमेल बैठाने की आवश्यकता पड सकती है।  कोई बडा खर्च उपस्थित होगा, किसी कार्यक्रम में बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान के साथ आपको तालमेल बनाने की आवश्यकता पड सकती है।  ससुराल पक्ष का महत्व बढेगा , किसी कार्यक्रम में ससुराल पक्ष के साथ तालमेल बनाने की आवश्यकता पड सकती है।  अनायास लाभ प्राप्ति की संभावना बन सकती है।  किसी कार्यक्रम में माता पक्ष को लेकर सुखद अहसास बनेगा, वाहन या किसी प्रकार की संपत्ति का भी सुख प्राप्त होगा।  झंझटों को सुलझाने में प्रभाव की कमजोर स्थिति के कारण दिक्कत आएगी।  संयोग के न बन पाने से कोई असफलता दिखाई पड सकती है। किसी धार्मिक क्रियाकलापों के बाद भी निराशा ही बनेगी।

कुंभ लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  धन की स्थिति मजबूत होगी ,  इसे मजबूत बनाने के कार्यक्रम भी बनेंगे। संपन्न लोगों से विचार विमर्श होगा।  काफी महत्वपूर्ण लाभ की संभावना है , इसे प्राप्त करने के लिए प्रयास बनेगा।  प्रभावशाली लोगों से संबंध की मजबूती बनेगी। कुछ झंझटों को सुलझाने में अपने प्रभाव का पूरा उपयोग करना होगा। सामाजिक कार्यक्रम या अन्य स्थान पर पिता का सुखद अनुभव प्राप्त होगा, कर्मक्षेत्र का माहौल भी मनोनुकूल होगा।  किसी कार्यक्रम में भाई.बहन , बंधु बांधवों के मामलों में सुखद अहसास बनेगा। सहकर्मियों से सहयोग मिलेगा।  वातावरण की कमजोरी के कारण पढाई लिखाई या किसी प्रकार का ज्ञान प्राप्त करना कठिन रहेगा।  संतान से संबंधित माहौल भी कमजोर बना रहेगा। रूटीन काफी अस्त व्यस्त रहेगा और किसी घटना का प्रभाव जीवनशैली पर बुरे ढंग से पडेगा।

मीन लग्नवालों के लिए 31 दिसंबर तथा 1 , 2 जनवरी को  स्वास्थ्य या व्यक्तिगत गुणों को मजबूती देने के कार्यक्रम बनेंगे, स्मार्ट लोगों का साथ मिलेगा।  किसी सामाजिक कार्यक्रम में पिता पक्ष का महत्व दिखाई देगा, कर्मक्षेत्र में भी आपको बडी जबाबदेही मिल सकती है।  बुद्धि ज्ञान के मामलों के लिए ये दिन महत्वपूर्ण होंगे , संतान पक्ष के मामलों में महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा सकते हैं।  किसी परिणाम में संयोग की बडी भूमिका रहेगी, धार्मिक कार्यक्रमों में भी सुखदायक उपस्थिति बनेगी।  धन कोष की स्थिति अच्छी रहेगी , साख बना रहेगा।  माता पक्ष के किसी कार्यक्रम में बाधा उपस्थित होगी , वाहन या किसी प्रकार की संपत्ति कष्‍ट का कारण बनेगी। घर गृहस्थी का वातावरण अच्छा नहीं दिखाई देगा, ससुराल पक्ष का तनाव उपस्थित हो सकता है। प्रेम संबंध में भी दूरी बनेगी। 

8 comments:

  1. ▬● अच्छा लगा आपकी पोस्ट को देखकर... साथ ही यह ब्लॉग देखकर भी अच्छा लगा... काफी मेहनत है इसमें...
    नव वर्ष की पूर्व संध्या पर आपके लिए सपरिवार शुभकामनायें...

    मेरे ब्लॉग्स की तरफ भी आयें तो मुझे बेहद खुशी होगी...
    [1] Gaane Anjaane | A Music Library (Bhoole Din, Bisri Yaaden..)
    [2] Meri Lekhani, Mere Vichar..
    .

    ReplyDelete
  2. आपको नव वर्ष 2012 की हार्दिक शुभ कामनाएँ।
    ---------------------------------------------------------------
    कल 02/01/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  3. जानकारी हेतु शुक्रिया!!आपको नए साल की शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  4. अच्छी जानकारी दे दी आपने ....नववर्ष की ढेरों शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  5. अपनी राशि के बारें में जानकर अच्छा लगा .नववर्ष की शुभ कामनाये.....

    ReplyDelete
  6. राशियों के बारें में जानकर अच्छा लगा.नववर्ष की आपको शुभकामनाएं.....

    ReplyDelete

टिप्‍पणी के रूप में आपके विचारों और सुझावों का स्‍वागत है ....